बाथरूम में सेक्स

हेलो फ्रेंड्स मेरा नाम प्रमोद है और में 28 साल का हूँ. में UP का हूँ लेकिन मुझे हैदराबाद में नौकरी मिली इसीलिए में हैदराबाद में रेलटीवेर्स के साथ रहता हूँ.

मेरी पर्सनालिटी बहुत अच्छी है ५’११” हाइट और मस्कुलर बॉडी है मेरी. में सावले रंग का हूँ और स्तुब्ब्ले मैन्टिन करता हूँ मेरे छाती पर बहु से बाल है. मेरे बाल नैक तक लम्बे है टाइट जीन्स और टाइट शर्ट पहनता हूँ में एक फैक्ट्री में सुपेर्विसेर का काम करता हूँ.

मेरी शादी हुई है और मैं अपनी पत्नी को मिस करता हूँ और उसके साथ किया बाथरूम में सेक्स भी!

फैक्ट्री से ५ कम दूर हमारा ऑफिस है जहाँ मुझे वीकली २-३ बार रिपोर्ट्स देना पड़ता है.

मेरी ब्लैक पल्सर बाइक है ऑफिस नया बना था. में फैक्ट्री से ४ बजे निकल के ऑफिस जाता हूँ.

ऑफिस में अभी बहुत काम लोग आता है पुराण ऑफिस अभी पूरा नहीं हुआ ऑफिस में एक पार्किंग का बेसमेंट है जहाँ मैं अपनी बाइक पार्क करता हूँ.

वहां अभी लाइट्स नहीं लगी है बस थोड़ा ओपनिंग है सेलिंग पर जहाँ से थोड़ी बहार की लाइट आती है.

मैं हमेशा बेसमेंट में तैरकर सिगरेट पीटा हूँ. मुझे ग्लव्स पहने सिगरेट पीते हुए मूठ मरना बहुत अच्छा लगता.

स्ट्रेस सारा निकल जाता है. मैं अपनी शर्ट उतारकर तन की दुर्गन्ध एंड डॉ का स्मेल सूंघते सूंघते ग्लव्स में ही मूठ मरता हूँ.

कुछ दिनों से मैंने महसूस किया की कोई मुझे देख रहा है मूठ मरते हुए.

लेकिन जब मैं पूरा बेसमेंट छान मरता तो कोई नहीं दीखता.

एक दिन जून में हैदराबाद मैं पहली बारिश हुई में फक्ट्री से निकल चूका था और ऑफिस आते आते पूरा भीग गया था.

ऑफिस में कोई नहीं था तो में वापिस बेसमेंट में आया.

में पूरा भीग गया था इसीलिए मैंने अपनी शर्ट निकल दी अब मैं सिर्फ काले बनियान में था शुक्र है की सिगरेट का पैकेट गिला नहीं हुआ था.

मैंने सिगरेट जलाई पंत का ज़िप खोला अपना तना हुआ लंड बहार निकला और धीरे धीरे हिलने लगा कुछ ५ मं बाद किसीके चलने की आहात सुनाई दी में रुक गया मैंने सिगरेट फेंकी और आजु बाजु देखने लगा पर कोई नहीं था

सोचा की वहां होगा क्यूंकि बहार जमके बारिश हो रही थी तो शायद कंफ्यूज हो गया मैं फिर से चालू हुआ

अब मेरा लंड टेंशन के मारे और भी तन गया था और काफी मोटा हो गया था

इतने में मैंने सामने से किसीको आते हुए देखा मैंने झट से लंड को पंत में दाल दिया. एक पतला सा लड़का आया और मुझे कसके गले लगाया

मुझे कुछ समझ में नहीं आया फिर उसने मेरा ग्लव्स पहना हुआ हाथ अपने चेरे पे घूमने लगा और मेरी उंगलिया चाटने लगा.

मेरा लंड तना हुआ था उसने मेरी ज़िप पर किस करने लगा और सोएंगे लगा फिर वह मेरी बगल भी सूंघने लगा मुझे सिगरेट पीने का मन कर रहा था

मैंने लाइटर खोला लाइटर के थोड़ी सी रौशनी से मैंने उस लड़के का चेहरा देखने की कोशिश के मुझे एक बड़ा शॉक लगा वह मेरे बॉस का लड़का था

जो उस से आया था अपनी पढाई करके वह २० साल का था गोरा चिट्टा.

वह मेरा लंड पंत के बहार निकल कर चूसने लगा और बीचमे मेरी गोटिया भी पूरी अब]पनि मुँह में लेके चूसता था बड़ा मज़ा आरा था क्यूंकि मैंने कभी ओरल सेक्स नहीं किया था और मेरी वाइफ मेरे लंड को मुँह में लेने के लिए हिचकती थी

मैंने उसका सर अपने हाथों से टाइट पकड़ा और तेज़ी से लंड को उसके मू में अंदर बहार करने लगा वह उह ाः करने लगा फिर उसने अपने सारे कपडे निकल दिए

मैंने उसके के बदन को महसूस किया कोई बाल नहीं थे बदन पे और माखन के जैसे मुलायम बदन था

मैं उसको चूमने लगा सारे बदन पे और उसके टिट्स को चूसने लगा वह आवाज़े निकल रहा था

मज़े लेते हुए अब मैं अपने लंड को जोर से हिलने लगा तो उसने मुझे रोका वह पलटकर थोड़ा सा झुक गया और अपनी पंत और अंडरवियर निकल दी उसने मेरे लंड को पकड़ कर गांड में घुसाने को कहा.

मई हैरान हो गया मैंने ऐसा पहले कभी नहीं किया था उसकी गांड के छेद में मैंने अपना लंड घुसाने की कोशिश की..उसका छेद बहुत ही छोटा था

तोह मई जोर से उसकी छेद पर थूका थूक को अपनी लंड पर लगाया जिससे आसानी से लंड उसकी गांड में घुस गया अब मई जोर लंड को उसकी गांड मैं अंदर बहार करने लगा वॉक जोर से चिल्लाने लगा

तो मैंने अपने हाथ से उसको मुँह को बंद किया वह उम् उम् करता रहा और ाः आहे करके मज़े से उसकी चुदाई कर रहा था ऐसे ७-८ मं बाद मुझे लगने लगा की अब मेरा स्पर्म बहार आने को रेडी है

मैंने लंड को बहार निकला और हाट से मूठ मरने लगा उसने मेरा लंड फिर से मुँह में लिया और जमके चूसने लगा मेरा वीर्य थोड़ी ही देर मैं तेज़ी के साथ बहार आया

उस लड़के ने मेरा लंड पूरी तरह से चूसा और सारा वीर्य ख़ुशी ख़ुशी पी गया.

अब मैं सातवे आसमान में था मैंने सोचा की अब मेरी बारी है इस लौंडे को खुश करना की मैंने उसे अपने हाथों से जमके पकड़ा और उसके लंड को दबाने लगा उसके गोटियों को भी डबरा था और वह चीख रहा था

मैंने ग्लव्स अभी पहने हुए ही थे एक हाथ से उसका लंड जोर जोर से हिला रहा था और एक हाथ से उसके मुँह बंद कर दिया था

उतने में उसके सारा वीर्य मेरी ग्लोव आ गया तो मैंने ग्लव्स तो उसके चेहरे पे पांच दिया

उसने मुझे गले लगाया अपने सारे कपडे लिए और पार्किंग की दुसरे और भाग गया

वहां मैंने देखा की एक कार कड़ी हुई थी जिसमे वह बैठ गया कपडे पहने और गाड़ी स्टार्ट करके भाग गया.

कुछ दिन बाद वह एक दो बार ऑफिस में दिखा लेकिन मुझे अनजाने आदमी की तरह देखता लेकिन मई मज़े में था क्यूंकि मैंने पहली बार एक चिकने लाउने की चुदाई की

Leave a Comment