तलाकशुदा हसीन लड़की की चुदाई – 1

हेलो दोस्तों एक बार फिर से स्वागत है आपका गरमा गरम कहानी में जिसका नाम है तलाकशुदा लड़की की चुदाई

दोस्तों मैं यूपी का रहने वाला हूं और मेरी उम्र अभी 23 साल की भी है और मैंने आज तक सेक्स नहीं किया।

यह पहली दफा है जो मैंने सेक्स किया है और आपके सामने प्रस्तुत कर रहा हूं।

दोस्तों मेरे किराए पर एक लड़की और उसकी फैमिली बहुत टाइम से रह रहे हैं।

वह सब दिखने में और पढ़ाई लिखाई में बहुत अच्छे हैं।

उस लड़की को मैं दीदी कहकर पुकारता था क्योंकि वह मुझसे बहुत बड़ी थी।

उनकी उम्र 32 साल है और वह अभी भी जवान लगती है।

उन्हें देखकर कोई कह नहीं सकता कि मैंने 32 साल की होगी जवान और हसीन पर उनके साथ कुछ बुरा हुआ।

दोस्तों उनकी शादी 5 साल पहले हो गई थी और इन 5 सालों में उनका रिश्ता नहीं चला।

वह काफी टाइम घर वापस आ जाती थी और अपने पति के साथ नहीं रहती थी।

मुझे पता चला कि उनके अपने पति से नहीं बनती है।

फिर अब जाकर उनका तलाक होने वाला है तो दोनों अलग-अलग रहते हैं ।

दोस्तों जब से वह घर वापस आई है तब से वह मुझे घूरती रहती है ।

मुझे पहले कुछ समझ नहीं आ रहा था वह मुझे बहाने से बनाती रहती थी।

मतलब ऐसा लगता था जैसे भी घूम फिर कर मेरे साथ ज्यादा समय निकालने की कोशिश कर रहे हैं।

उसकी फैमिली अब कहीं और रहती थी पर वह अभी भी हमारे किराए पर ही रहती थी।

मैं कुछ करना चाहती थी इसलिए उसने अपने घर में जाने के बजाए हमारे घर पर किराए पर रहना जरूरी समझा।

अब मेरे घर वाले भी कामकाज पर जाते थे मम्मी नरस थी और पापा प्राइवेट कंपनी में जॉब करते थे।

मेरे कॉलेज की छुट्टियां चल रही थी तो मैं घर पर ही आराम फरमाता था।

उन दीदी का नाम मीनाक्षी था और मेरे घर वाले चले जाते थे तो वह नीचे मुझसे मिलने आ जाया करती थी।

मैं हॉलीवुड मूवी देखा करता था और उन्हें यह पसंद में नहीं थी पर मेरे साथ बैठने के लिए पहचान कर वह मूवी दिखा करती थी।

सब कुछ ऐसा ही चल रहा था और 1 दिन कुछ ऐसा हुआ कि मेरी भी नियत बदल गई।

वह मुझे हर बार बता कर जाती थी कि मैं नहाने जा रही हूं।

पहले मैं सोचता था कि वह ऐसे ही बता रही है लेकिन एक दिन मै उनके पीछे गया।

मैं बाथरूम में नहा रही थी अबे दरवाजा खोल कर मैं चुपके से ऐसी जगह पर खड़ा हुआ जहां से मुझे वह देख सके।

मैं धीरे-धीरे दरवाजा खोलने लगा अब एकदम से उन्होंने मेरी तरफ देखा।

मैं घबरा गया अब मैं वहां से नहीं मिल पाया मेरे पैर जम गए थे।

पर शायद उन्होंने मुझे नहीं देखा था क्योंकि उनकी आंखों पर साबुन था।

तो क्या चुपचाप अपने शरीर पर साबुन लगा रही थी मैंने गहरी समझ ली और वही खड़ा रहा तब तक मैं अपने शरीर में पानी ना डालें।

ऐसा लग रहा था कि मुझे पता चल चुका है कि मैं देख रहा हूं अभी उन्होंने एक बार भी दरबार की तरफ नहीं देखा।

मैं अपने शरीर पर पानी डालने लगी और धीरे-धीरे उनके शरीर का सारा साबुन निकलने लगा और उनका खूबसूरत बदन मुझे दिखने लगा ।

मैं दिखने में इतनी खूबसूरत थी उनका बदल उतना ही खूबसूरत है।

उनके बड़े गोल पर खड़े बूब्स थे कमर पतली और गांड बड़ी थी ।

मैं उनके कमरे की तरफ भागा क्योंकि वह नहा कर बाहर आने वाली थी।

और मैं कमरे में छिप गया वह तोलिया बांधकर कमरे में आई और तोलिया गिरा दिया।

जानती थी कि मैं कमरे में हूं और जानबूझकर मेरे सामने नई ब्रा और पैंटी पहने लगी।

मेरा लंड तो वैसे ही खड़ा हो चुका था और अब खुद आकर बाहर आने को तैयार था।

उन्होंने सिर्फ पढ़ लिया और जानबूझकर अपनी गांड कर रही थी मैं पता था कि मैं बैठकर  पीछे से में उन्हें देख रहा हूं।

पूरे कपड़े पहनने के बाद उन्होंने मुझे देखा और चिल्लाने लगी कि तुम मेरी कमरे में क्या कर रहे हो ?

मैं घबरा गया और मैंने कहा कि आप गलत समझ रहे हैं मैं गलती सही कमरे में आ गया था।

उन्होंने कहा मुझे पता तुम मैं चुपके से देख रही थी क्योंकि तुम तो नीचे थे और मैं नहाने गई थी!

उसके बाद तो मेरी कमरे में आकर छुप गए थे।

मैं घबरा गया क्योंकि यह बात सच थी फिर उन्होंने मुझे बोला कि अगर तुम नहीं चाहते कि यह बात मैं तुम्हारे घर वालों को बताऊं तू जैसा मैं कहती हूं वैसा करो।

मैंने कहा क्या करना होगा बताओ पर मेरे घर वालों को मत बोलना?

उन्होंने कहा ना बदला लूंगी तुमसे तुमने मुझे बिना कपड़ों के देखा अब मैं तुम्हें बिना कपड़ों के देखूंगी।

मैंने कहा उसके बाद तुम मुझे जाने दोगे और किसी को कुछ नहीं बताओगे।

उन्होंने कहा हां वह किसी को कुछ नहीं बताएंगे मैंने धीरे धीरे अपने सारे कपड़े उतार दिए पुराना नंगा हो गया।

मैंने हाथ से अपना लंड छुपाया हुआ था तो उन्होंने कहा कि अपना हाथ हटाओ ।

मैं नहीं हटाया मुझे शर्म आ रही थी तो वह घुटनों पर बैठी और  मेरे दोनों हाथ हटा दिए।

उन्होंने देखा कि मेरा लंड पूरा खड़ा हो रखा है और वह बहुत बड़ा है।

मीनाक्षी से रहा नहीं गया और मीनाक्षी ने  मेरा लंड पकड़ा और अपने मुंह में ले लिया।

मुझे कुछ समझ नहीं आया लेकिन मैं घबराया हुआ था और मुझे बहुत ज्यादा मजे आ रहे थे।

वह मेरा लंड चूस रही थी और की आंखें बंद थी वह भूल चुकी थी सब कुछ।

मैं उन्हें ध्यान से देख रहा था उनका चेहरा कि इतने साल से मैं उन्हें दीदी बोलता हूं और आज वही खूबसूरती दीदी मेरा लंड चूस रही है।

मैंने धीरे से अपना हाथ उनके सर पर रखा और उनका सर पकड़ कर लंड जोर से उनके मुंह में डालने लगा।

उन्होंने खुलकर मुझे देखा मुझे आंख मारी जैसे कह रही हो घबराओ मत जो कर रहे हो सही कर रहे हो ।

करीब पांच 7 मिनट तक मैंने उन्हें ब्लोजॉब दिया उसे मेरी आंखें बंद होने लगी क्योंकि मेरा अंदर का लावा फटने वाला था और सारा माल निकलने वाला था ।

कुछ देर बाद मैंने दीदी को बोला कि मेरा निकलने वाला है प्लीज इसे मुंह से निकाल दीजिए। 

उन्होंने मेरी बात को अनसुना कर दिया और लंड को अच्छा चूसने लगी ताकि यह सारा माल उनके मुंह में निकल जाए ।

मैंने कहा दीदी मेरा निकलने वाला है हमें उनके बाल चोर पकड़े और मेरा पूरा शरीर मैं सनसनाहट से हो गई और एक झटके में मेरा सारा माल उनके मुंह के अंदर निकल गया।

मुझे बहुत ज्यादा मजा आया क्योंकि यह पहली बार था और मैं देखने लगा की उनके मुंह पर मेरा माल निकल चुका है ।

उन्होंने वो माल पी लिया मुझे हंस कर देखने लगी और फिर भाग कर बाथरूम में चली गई।

मै उनके पीछे गया मैंने देखा कि वह कुल्ला कर रही है और ब्रश कर रहे हैं।

ब्रश करने के बाद मुझे देखने लगी और आकर मुझसे गले मिल गई।

उन्होंने मुझे धन्यवाद दिया और कहा कि जब से मेरी शादी हुई है उसने बहुत तड़प रही थी।

उन्होंने कहा कि वह शादी के बाद बहुत बहुत सेक्स करते थे पर कुछ साल बाद हमारे बीच नहीं बनी।

तब से लेकर अब तक मैंने कभी सेक्स नहीं किया तब से मैं बहुत तड़पती थी ।

आज तुमने मेरी आदि प्यास मिटा दी है तुम मुझे बहुत खुशी हुई।

मुझे माफ कर देना अगर तुम्हें यह पसंद नहीं आया तो अगर तुम बोलोगे तो मैं कभी दोबारा नहीं करूंगी पर प्लीज किसी कोई बात मत बताना ।

वह बहुत अच्छी थी और मैंने बहुत खूबसूरत थी और उन्होंने मुझे मजा भी बहुत दिया था।

तो मैंने उन्हें कहा कि नहीं मैं यह बात किसी को नहीं बताऊंगा और हां मुझे भी अच्छा लगा।

उन्होंने कहा क्या सच में मैंने तुम्हें मजा दिया तो मैंने कहा हां तुमने मुझे मजा दिया !

मैंने आज तक कभी सेक्स नहीं किया है तो मैं भी इसे करना चाहता था।

उन्होंने कहा पर अभी तो हमने सेक्स किया ही नहीं है अभी तो बस ब्लोजॉब था।

मैंने कहा तो हम सेक्स नहीं कर सकते? उन्होंने मेरी तरफ देखा अपने सूट को उतार दिया और नाडा खुल कर पजामा भी उतार दिया।

तलाकशुदा लड़की की चुदाई – 2 पढ़े!

1 thought on “तलाकशुदा हसीन लड़की की चुदाई – 1”

Leave a Comment